aa-a-aa-a-aa
aa-a-a-aa-
સમાચાર WhatsApp પર મેળવવા માટે જોડાવ Join Now

Bhushi Dam Lonavala Accident: भुशी डैम में पहले भी हो चुके हैं कई हादसे



पुणे के लोनावाला में 30 जून को दिल दहला देने वाला एक हादसा हो गया। लोनावाला स्थित भुषी डैम के पास पिकनिक मनाने गया एक परिवार जो कभी वापस अपने घर नहीं लौटा। 

Bhushi Dam Lonavala Accident


एक ही परिवार के 17 लोग एक शादी समारोह में शरीक होने पहुंचे थे। छुट्टियों का आनंद लेने सभी लोनावाला के भूसी डैम आए। डैम के पीछे बहते खूबसूरत झरने का आनंद ले ही रहे थे कि तभी अचानक झरने के पानी का बहाव तेज हो गया। बहाव में 10 लोग बह गए थे जिसमें पांच लोगों को तो बचा लिया गया लेकिन बाकी बचे पांच की मौत हो गई। तमाम कोशिशें की एक दूसरे को पकड़कर बचने की लेकिन पानी की ताकत के सामने वह टिक नहीं सके और बारी-बारी फिसल कर बहने लगे। 


लोनावाला का भूसी डैम जहां यह पूरा हादसा हुआ यह जगह पर्यटकों का आकर्षण केंद्र माना जाता है। मानसून के दौरान भूसी बांध बेहद खूबसूरत लगता है। जहां हर साल लाखों पर्यटक आते हैं लेकिन इसके परे भी कई कहानियां हैं। भूसी डेम में अब तक कई हादसे हो चुके हैं। कितने ही लोगों ने अपनी जान गवाई है। मानसून में भारी बारिश के चलते भूसी बांध में ओवरफ्लो हो जाता है। पत्थरों से बने इस डैम की लंबाई की बात करें तो 201 मीटर और ऊंचाई 15 मीटर है। 


साल 1860 में इसे अंग्रेजों द्वारा बनवाया गया था। उस समय ट्रेनों को चलाने के लिए भांप के इंजन का इस्तेमाल होता था। जिसे पानी  की जरूरत पड़ती थी। इसीलिए इस बांध का निर्माण किया गया था। धीरे-धीरे यह डैम प्रसिद्ध हुआ और लोगों के आकर्षण का केंद्र बन गया। हालांकि लोग जब यहां आते हैं तो कई जरूरी बातों को नजरअंदाज करते हैं। जिसके चलते कई लोगों की मौत भी हो जाती है। 


हर साल कई युवा और बच्चों के डैम में डूबने की खबर आती है। यहां लोगों की भीड़ इतनी ज्यादा होती है कि कई बार गलती से सीढ़ियों पर धक्का लगने से लोग झरने में गिर जाते हैं। फिसलन इतनी ज्यादा है कि चाहकर भी वह खुद को बचा नहीं पाते।


वीडियो देखने के लिए :- Click Here


(ये आर्टिकल में सामान्य जानकारी आपको दी गई है अगर आपको किसी भी उपाय को apply करना है तो कृपया Expert की सलाह अवश्य लें)

Post a Comment

Previous Post Next Post