aa-a-aa-a-aa
aa-a-a-aa-
સમાચાર WhatsApp પર મેળવવા માટે જોડાવ Join Now

जिन लोगों के मोबाइल फोन में दो सिम कार्ड है उनके लिए बुरी खबर



Charges for Dual SIM Cards अगर आप मोबाइल में 2 सिम कार्ड बेवजह इस्तेमाल कर रहे हैं, यानी एक सिम इनएक्टिव मोड में रखते हैं तो ऐसे Mobile Phone SIM Cards Charge सिम कार्ड पर चार्ज लग सकता है। यह चार्ज एक बार में या सालाना आधार पर लिया जा सकता है। Telecom Regulatory Authority of India (TRAI) ट्राई की ओर से मोबाइल ऑपरेटर ने मोबाइल फोन या लैंडलाइन नंबर के लिए चार्ज लेने का प्लान बनाया है। फिर मोबाइल ऑपरेटर यूजर्स से यह चार्ज वसूल सकता है।

जिन लोगों के मोबाइल फोन में दो सिम कार्ड है उनके लिए बुरी खबर

TRAI ट्राई मोबाइल नंबरों के दुरुपयोग को लेकर चिंतित है। ऐसे समय में ट्राई ने एक नया प्लान बनाया है। जिसे टेलीकॉम कंपनियां मोबाइल यूजर्स पर लगा सकती हैं। आइए जानते हैं क्या है ये नया प्लान।

ट्राई के अनुसार, मोबाइल ऑपरेटर उन सिम कार्डों को अक्षम नहीं करते हैं, जो लंबे समय तक सक्रिय मोड में नहीं होते हैं, ताकि उनका यूजरबस न खो जाए। नियमों के मुताबिक, अगर किसी सिम कार्ड को लंबे समय तक रिचार्ज नहीं कराया जाता है तो उसे ब्लैकलिस्ट करने का प्रावधान है। ऐसे समय में ट्राई ने मोबाइल ऑपरेटरों पर जुर्माना लगाने की योजना बनाई है, जिसका बोझ टेलीकॉम कंपनियां आम लोगों पर डाल सकती हैं।

Chrages for dual sim cards

IMAGE : FREEPIK.com

ईटी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, देश मोबाइल नंबरों की कमी की समस्या से जूझ रहा है। ऐसा माना जाता है कि ज्यादातर मोबाइल यूजर्स अपने स्मार्टफोन में दो सिम कार्ड का इस्तेमाल करते हैं। एक सक्रिय मोड में रहता है, जबकि दूसरे का उपयोग बहुत सीमित होता है। या निष्क्रिय रहता है। साथ ही जब कुछ यूजर्स एक से अधिक मोबाइल सिम कार्ड का इस्तेमाल करते हैं तो ऐसे समय में मोबाइल नंबर को चार्ज करने की योजना बनाई गई है।

ट्राई के आंकड़ों की मानें तो फिलहाल 219.14 मिलियन से ज्यादा मोबाइल नंबर ब्लैकलिस्टिंग कैटेगरी में हैं। जो काफी समय से सक्रिय नहीं है। यह कुल मोबाइल नंबर का करीब 19 फीसदी है, जो एक बड़ी समस्या है। आपको बता दें कि मोबाइल नंबर स्पेसिंग का अधिकार सरकार के पास है। सरकार खुद मोबाइल ऑपरेटर को मोबाइल नंबर सीरीज जारी करती है। ट्राई के मुताबिक मोबाइल नंबर एक सीमित मात्रा में है। इसलिए इसका सही उपयोग करना चाहिए।


आपको बता दें कि टेलीकॉम कंपनियां ऑस्ट्रेलिया, सिंगापुर, बेल्जियम, फिनलैंड, यूके, लिथुआनिया, ग्रीस, हांगकांग, बुल्गारिया, कुवैत, नीदरलैंड, स्विट्जरलैंड, पोलैंड, नाइजीरिया, दक्षिण अफ्रीका और डेनमार्क जैसे देशों में मोबाइल नंबर के लिए शुल्क लेती हैं।

इसके साथ ही ट्राई कम इस्तेमाल वाले नंबरों पर जुर्माना लगाने पर भी विचार कर रहा है। अगर आप सिम का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं तो भी टेलीकॉम कंपनियां इसे बंद नहीं करती हैं। क्योंकि इससे उनका यूजरबेस बड़ा दिखता है। हालाँकि, इस वजह से नंबर का सही इस्तेमाल नहीं हो पाता है। यह समस्या डुअल सिम वाले लोगों को होती है, जिसमें वे अपना एक सिम कार्ड तो इस्तेमाल कर रहे होते हैं, लेकिन दूसरे को भी एक्टिव रखते हैं।

इसे सक्रिय भी रखना होगा क्योंकि लंबे समय तक सभी सेवाएं बंद रहने पर टेलीकॉम कंपनियां सिम कार्ड को निष्क्रिय कर सकती हैं। फिलहाल ट्राई ने अपने प्रस्ताव में ये सारी बातें कही हैं। सभी पार्टियों को जुलाई की शुरुआत तक इस प्रस्ताव पर जवाब देना है। इन सब पर अभी तक कोई फैसला नहीं लिया गया है।




(ये आर्टिकल में सामान्य जानकारी आपको दी गई है अगर आपको किसी भी उपाय को apply करना है तो कृपया Expert की सलाह अवश्य लें)

Post a Comment

Previous Post Next Post